खांसी (cough)

खांसी (cough)

खांसी (cough) cough medicine khansi ka ilaj ऐसा माना जाता है कि खांसी अपने आप में कोई बीमारी नहीं है बल्कि दूसरे रोग के लक्षण हैं, यह बीमारी सर्दी,  निमोनिया, टीवी, दमा या जिगर की खराबी के कारण पैदा होती है। वायु नली में जलन, अधिक कफ बनने, धूल के कारण तथा स्नायु के गड़बड़ियों से होती है। यह गले […]

आर्सेनिक एल्बम Arsenic Album

आर्सेनिक एल्बम Arsenic Album

Arsenic album or Arsenic alb आर्सेनिक एल्बम Arsenic album homeopathy यह एक तरह का संखिया नाम का जहर से बनाया जाता है। यह औषधि प्रत्येक अंग और उत्तक पर गहन क्रिया करती है। इसके स्पष्ट चारित्रिक लक्षण और बहुत से गंभीर किस्मों के रोग से संबंधित लक्षण इसके होम्योपैथिक व्यवहार को स्थाई एवं सुनिश्चित बना देते हैं। इसका विशेष लक्षण […]

Depression, Anxiety मानसिक अवसाद Sadness

Depression, Anxiety मानसिक अवसाद Sadness

मानसिक अवसाद (Depression or Anxiety) sadness मानसिक अवसाद सभी भावनात्मक अवस्थाओं में सबसे व्यापक है। शुरू में इस में हल्की उदासी होती है इसके बाद धीरे-धीरे यह बहुत ज्यादा दुख तकलीफ और उदासी में बदल जाता है, इसका सामना करने से अन्य शारीरिक रोग भी हो सकते हैं, अंत में व्यक्ति कभी-कभी आत्महत्या तक कर लेता है। पर देखा जाए […]

Tonsillitis treatment टॉन्सिलाइटिस/टॉन्सिल बढ़ना

Tonsillitis treatment टॉन्सिलाइटिस/टॉन्सिल बढ़ना

Tonsillitis Tonsillitis in hindi गले के प्रवेश द्वार के दोनों तरफ मांस की एक गांठ होती है, जो लसिका ग्रंथि के तरह होती है, इसे टॉन्सिल (Tonsils)कहते हैं। मुंह फाड़ ने को कहकर जीभ की जड़ के पास देखने पर उपजिह्वा (uvula) दिखाई देती है। अगर देखने में ऐसा लगे कि उपजह्वा के ठीक दोनों ओर फूली हुई है लाल […]

मूत्रतंत्र के कुछ प्रमुख रोग Urine problem

मूत्रतंत्र के कुछ प्रमुख रोग Urine problem

Urine problem Painful urination treatment Frequent urination Hematuria Retention Cystitis etc   मूत्रतंत्र गुर्दे (kidney), मूत्र वाहिनियाँ (Urinary duct), मूत्राशय (bladder) तथा मूत्र मार्ग (Urinary tract)से मिलकर मूत्रतंत्र बनता है। गुर्दे की संख्या दो है, जब ये खून को छानते हैं तो मूत्र बनता है, ये कमर के ठीक ऊपर मेरु रज्जु के दोनों किनारों पर स्थित होते हैं। मूत्र […]

बच्चों में होनेवाले कुछ प्रमुख परेशानियाँ और बीमारियाँ

बच्चों में होनेवाले कुछ प्रमुख परेशानियाँ और बीमारियाँ

बच्चों में होनेवाले कुछ प्रमुख परेशानियाँ और बीमारियाँ homeopathy medicine for baby एलर्जी * एलर्जी की समस्या बच्चों को एक या दो साल की उम्र तक ज्यादा होती हैं. बच्चों को गाय के दूध, घर के धूल धुएं या पाले हुए कुत्ते बिल्ली जैसे जानवरों के बालों से एलर्जी हो जाती है. एलर्जी में आंखों के नीचे स्याह घेरे सर्दी, […]

colocynth कॉलोसिन्थ

colocynth कॉलोसिन्थ

कॉलोसिन्थिस (Colocynthis) [ इजिप्त के एक तरह के गुल्म या पौधे के सूखे फलकी छाल और बीज निकाल देनेके बाद बचे हुए गूदेसे इसका टिंचर तैयार होता है। यह फल बहुत तीता है ] – क्रोधी व्यक्ति जो जरा-सी कोई बात पूछने पर गुस्सा हो उठता है या बुरा मान जाता है, जिन स्त्रियोंके अधिक ऋतुस्राव होता है, जो आलसी […]

Homeopathy होम्योपैथी क्या है

Homeopathy होम्योपैथी क्या है

Homoeopathy बहुत प्राचीन काल से ही जब मानव आदिम अवस्था में था, सभ्यता का विकास नहीं हुआ था, किसी प्रकार की कोई चिकित्सा प्रचलित नहीं थी, उसका कोई नाम नहीं था। सृष्टि के शुरुआत से से ही प्राणियों के शरीर में रोग उत्पन्न होने लगे तथा उन्हें दूर करने के लिए उपाय भी काम में लाये जाने लगे। इस प्रकार […]

दवाओं के परस्पर दुश्मनी रिश्ते और बायो कॉम्बिनेशंस

दवाओं के परस्पर दुश्मनी रिश्ते और बायो कॉम्बिनेशंस

List of inimical homeopathic remedies दवाओं के परस्पर दुश्मनी रिश्ते (Inimical remedies) ब्रायोनिया                –      कैल्केरिया कार्ब कैल्केरिया फॉस       –      बैराइटा कार्ब मर्क सोल                 –      साईलीशिया चाइना                     –      […]

बरसात में होनेवाली 7 प्रमुख बीमारियाँ

बरसात में होनेवाली 7 प्रमुख बीमारियाँ

बरसात में होनेवाली 7 प्रमुख बीमारियाँ और उनसे बचाव के उपाय  आँत की सूजन या आंत्रशोथ या गैस्ट्रोइंट्राइटिस /गैस्ट्रोएंट्राइटिस  Gastroenteritis यह बरसात में होनेवाली एक आम बीमारी है जिसे डॉक्टरी भाषा में गैस्ट्रोइंट्राइटिस कहते हैं।  बीमारी कैसे फैलती है..?  मल निकासी (सीवेज ) पाइप से निकले गंदे पानी के पीने वाले पानी में मिल जाने, बरसात के मौसम में सीवेज पाइप […]

गैस का ईलाज Gastritis

गैस का ईलाज Gastritis

Gastritis Gastric Gas ka ilaj इस बीमारी में पेट के जिस भाग से पाचक रस निकलता है  उसके म्ययूकस मेम्ब्रेन (श्लैष्मिक झिल्ली का प्रदाह (इरिटेशन) हो जाता है। यह बीमारी अनियमित खानपान, ज्यादा व्यायाम करना, अधिक देर तक जागना, अधिक तीखा खाना और मिर्च मसाले वाला खाना खाना, अत्यधिक धूम्रपान, शराब, तम्बाकू के सेवन या फिर आराम की जिंदगी, कब्ज […]

Aesculus hipp एस्कुलस-हिप्प

Aesculus hipp एस्कुलस-हिप्प

Aesculus hippocastanum Aesculus hipp (एस्कुलस हिप्प) यूरोप और अमेरिका में  पाया  जानेवाला एक तरह का पेड़ से टिंचर तैयार होता है। यह बबासीर और स्त्री रोग इत्यादि में प्रयोग किया जाने वाला एक प्रसिद्ध दवाई है। इस दवा की क्रिया निचली आंत पर होती है, मुख्यतः यह बवासीर और आंतों तथा पेट से संबंधित बीमारी में प्रयोग किया जाता है। […]

Calcarea carb (कैल्केरिया कार्ब)

Calcarea carb (कैल्केरिया कार्ब)

Calcarea carb (कैल्केरिया कार्ब) (कार्बोनेट ऑफ़ लाईम) Calcarea carb uses यह धातुगत औषधि (constitutional remedy) हैनिमन द्वारा जाँच किया हुआ सबसे अच्छा सोरा विष नाशक (anti – psoric) औषधि है। कुपोषण इसके प्रभाव का प्रमुख लक्षण है, ग्रंथियो, त्वचा और हड्डियों में परिवर्तन लाने का एक औषधि है। किसी खास स्थान या पूरे जगहों का पसीना बढ़ा हुआ होता है। […]

Alumina ऐलूमिना

Alumina ऐलूमिना

एल्युमिना Alumina (ऑक्साइड ऑफ़ एल्युमिनियम) इस औषधि में त्वचा एवं श्लैष्मिक झिल्लियों में शुष्कता तथा पेशियों में पक्षाघात की प्रवृति अधिक रूप से मिलती है बूढ़े व्यक्तियों में जैविक गर्मी (vital heat) का अभाव अथवा जो समय से पहले ही बूढ़े हो जाते है और दुर्बल रहते हैं यह औषधि निष्क्रियता, भारीपन, सुन्नपन, लड़खड़ाहट एवं चारित्रिक कब्ज़ मिलने पर बहुत […]

error: Content is protected !!