sun stroke

लू लक्षण बचाव और ईलाज Sun stroke

लू लगने के लक्षण और बचने के उपाय .

Sun stroke/heat stroke prevention

लू sun stroke

 

  • शरीर में पानी की कमी लू लगने की सबसे बड़ी वजह है।
  • लू में आम का पन्ना पीना होता है बेहद फायदेमंद।
  • कच्ची प्याज भी लू से बचाने में होती है मददगार।
  • बेल या नींबू का शर्बत पीने से होता है लूं में फायदा।

 

लू लगने के लक्षण

Heat stroke/Sun stoke symptoms

शरीर में नमक और पानी की कमी होना “हीट स्ट्रोक” का सबसे मुख्य कारण है। पसीने की “उपस्थिति” में, नमक और पानी का एक बड़ा हिस्सा शरीर से बाहर निकलता है और रक्त की गर्मी को बढ़ाता है। सिर में भारीपन शुरू हो जाता है, नाड़ी की गति बढ़ जाती है, रक्त की गति भी बढ़ जाती है। ब्रीदिंग मूवमेंट्स भी अच्छे नहीं होते हैं और शरीर ऐंठन महसूस करता है। बुखार काफी बढ़ जाता है। हाथ और पैर के तलवों में जलन होती है। आंखें भी जलती हैं। इस स्थिति में अचानक से बेहोशी आने के बाद रोगी की मृत्यु हो सकती है।

 

सनस्ट्रोक से बचने के तरीके

  • सूर्य से बचने के लिए दोपहर में बाहर नहीं जाना चाहिए। यदि आपको बाहर जाना है, तो सिर और गर्दन को तौलिये या गमक्षा आदि से ढंकना चाहिए।उसे इस तरह से बांधा जाना चाहिए कि दोनों कान पूरी तरह से ढंके हों।

  • गर्मियों में हल्का और सुपाच्य भोजन लेना चाहिए। बाहर जाते समय किसी को खाली पेट नहीं जाना चाहिए।

  • गर्मी के दिनों में अक्सर पानी पीते रहना चाहिए ताकि शरीर में पानी की कमी न हो। पानी में नींबू और नमक मिलाकर दिन में दो या तीन बार पीने से हीटस्ट्रोक नहीं होता है।

  • गर्मी के दिनों में नरम, मुलायम, सूती कपड़े पहनना चाहिए ताकि हवा और कपड़े शरीर के पसीने से भीगे रहें।

  • गर्मियों में ठंडे पदार्थों का सेवन नियमित करना चाहिए। मौसमी फल खाना भी फायदेमंद है, जैसे तरबूज, तरबूज, अंगूर आदि।

  • गर्मियों में प्याज का सेवन अधिक करना चाहिए, कटा हुआ प्याज बाहर जाते समय जेब में रखना चाहिए।

heat stroke लू से बचाव
खूब पानी पिए

चूंकि गर्मियों में पसीना अधिक आता है, इसलिए शरीर का पानी अधिक मात्रा में खर्च होता है। अब पानी की आपूर्ति नहीं होने पर शरीर से पसीना निकलना बंद हो जाएगा। पसीना शरीर के तापमान को नियंत्रित करता है और हीट स्ट्रोक से बचाता है। इसी तरह, ठंडा पानी एक अमृत पेय है। घर से बाहर निकलने से पहले खूब पानी पिएं ताकि शरीर में इसकी कमी न हो। इस मौसम में पानी के अलावा शर्बत, गन्ने का रस, लस्सी आदि का भी सेवन करना चाहिए। पानी और फाइबर प्रमुख त्वचा वाले फलों का सेवन करना चाहिए।

भरपूर भोजन करें

गर्मी के दिनों में खाली पेट बाहर नहीं जाना चाहिए। जब भी घर से बाहर निकलना हो, तो पूरे भोजन कर के ही निकलना चाहिए।
धूप के चश्मे के साथ छोड़ दें

धूप के चश्मे लगाये 

गर्मी के दिन में, घर से बाहर जाते समय धूप के चश्मे से निकलना चाहिए, यह आंखों को धूप से बचाता है और आंखों को ठंडक पहुंचाएगा। जो लोग एयर कंडीशनर के साथ कमरे में काम करते हैं या कूलर में काम करते हैं, उन्हें तेज धूप के संपर्क में अचानक आने से बचना चाहिए क्योंकि इससे सर्दी गर्मी भी हो सकती है।

सूती कपड़े का उपयोग करें

धूप में, पूरे शरीर को कपड़े से ढकने की पहल करें और दोपहर में सड़कों या खुले खेतों में न घूमें। यदि आप सड़कों पर चलना चाहते हैं, तो एक छाता लें। अगर दोपहिया वाहन चलाते हैं, तो अपने सिर पर हेलमेट या टोपी पहनें। गर्म हवा के छींटे से बचने के लिए कान को कपड़े से ढकें।

इमली के बीज

इमली के बीजों को पीसकर पानी में घोल लें, इसे छान लें और इसमें चीनी मिलाकर पीएं।

धनिया फायदेमंद है

धनिया को पानी में डालें और मसलकर फिर पानी में थोड़ी चीनी डालकर और इसे छानकर पिएँ, यह लू से बचाता है ।

आम का पत्ता

गर्मियों में कच्चे आम को आग में पकाकर उसका शरबत या आम का पन्ना आदि पीना चाहिए, यह गर्मी से बचाता है और सनस्ट्रोक के बाद भी फायदेमंद होता है।

प्याज

कच्चा प्याज को गर्मी के दिनों में अधिक खाना चाहिए या कच्चा प्याज सलाद के साथ खाने से भी सनस्ट्रोक से राहत मिलती है।

 

लू लगने या इसके लक्षणों में प्रयोग होने वाली प्रमुख homoeopathic  medicines 

Homoeopathic medicine 

मुख्य दवा –
Glonoine 30 (ग्लोनाइन) हर आधे घंटे पर 1  ख़ुराक – सर दर्द , बुखार , घबराहट 
Belladona 30 (बेलाडोना) हर आधे घंटे पर 1  खुराक – माथा गर्म , आँखे लाल , तेज बुखार
Gelsemium (जेल्सेमियम)30 हर आधे घंटे पर – चुपचाप पड़े रहने की इच्छा , बुखार , प्यास न हो 

About the Author

monsterid

Admin

डा राजकुमार (BHMS) होमियोपैथी के क्षेत्र में एक प्रशिक्षित और काफी अनुभवी डॉक्टर हैं , अपने क्लिनिक के माध्यम से कई वर्षों (लगभग 20 वर्ष) से हर तरह की नये और पुराने तथा जटिल रोंगों के सफल ईलाज करते आ रहे हैं ,यह वेबसाइट किसी भी व्यक्ति के लिए काफी उपयोगी है , कोई भी आदमी इस वेबसाइट से फायदा उठा सकते हैं | अगर कोई भी सवाल या कुछ पूछना चाहते हैं तो बिना कोई संकोच के सम्पर्क कर सकते हैं , email - [email protected]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!