dant dard ka ilaj

दाँत दर्द Toothache

दाँत दर्द 

 dant dard ka ilaj

 toothache pain

दाँत दर्द से काफी कष्ट होता है और कभी कभी बहुत अधिक तकलीफ देता है |

 

कारण

 Toothache causes

  • मौसम बदलना 
  • सर्दी लगना 
  • गर्म पेय के बाद तुरत ठंडा पेय या ठंडा पानी पीना 
  • दांतों में गंदगी होना
  • दांतों में सड़न होना , कीड़े लगना 
  • चोट 
  • वातदर्द  

 

  • ऐसे खाद्य पदार्थों से बचें जो अधिक मीठे हैं या जिनमें चीनी है।

  • अत्यधिक तेल मसालों वाले खाद्य पदार्थों का सेवन न करें।

  • अम्लीय फलों के सेवन से बचें।

  • ज्यादा गर्म या ठंडा न खाएं और न ही पिएं।

  • बहुत अधिक कठोर खाद्य पदार्थों का सेवन न करें।

  • दाँत क्षय- दाँत के क्षय के कारण कभी-कभी दाँत दर्द हो सकता है।

 

  • दांतों की चोट- अगर किसी व्यक्ति के दांत में चोट लग जाती है, तो उसके दांतों में दर्द हो सकता है।

  • इस कारण से, दांत की चोट का तुरंत इलाज किया जाना चाहिए।

  • दांतों का एक दुसरे के साथ पीसना- जिस व्यक्ति के दांत पीसते रहते हैं, उसके दांतों में दर्द होने की संभावना होती है, जिसके कारण उसके दांत कमजोर हो जाते हैं। इसलिए किसी भी व्यक्ति को अपने दांत नहीं पीसने चाहिए।

  • गलत तरीके से दांत साफ करना- आपने अक्सर देखा होगा कि कुछ लोग गलत तरीके से दांत साफ करते हैं, जिसकी वजह से उनके दांत कमजोर हो जाते हैं। यही कारण है कि सभी लोगों को ठीक से ब्रश करना चाहिए ताकि उनके दांत स्वस्थ और मजबूत रहें।

  • अधिक मात्रा में ठंडी, मीठी, गर्म चीजों का सेवन करना- यदि कोई व्यक्ति अलग-अलग स्वादों का सेवन करता है, तो इसका असर उसके दांतों पर बुरा पड़ता है।

  • इसलिए सभी लोगों को इस बात का ध्यान रखना चाहिए कि वे एक समय में अलग-अलग चीजों का सेवन न करें बल्कि थोड़ी-थोड़ी देर में करें।

ईलाज

 Toothache treatment

पहले कारण का पता करके उसको दूर करने का दवा लेना चाहिए और उसके बाद दर्द का दवा खाना चाहिए | लक्षणों के अनुसार निम्नलिखित दवाएं ले

 

 homeopathic medicine

 

प्लांटेगो Q (बाहरी प्रयोग के लिए )- दाँत दर्द का मुख्य दवा – इसे रुई के साथ दांत पर लगाएं 

एकोनाईट 30 , कैमोमिला 30 – दिन में 3 बार – ठंड लगकर दर्द होने से या स्नायविक दर्द हो , अधिक चिडचिडापन हो 

बेलाडोना 30 दिन में 3 बार – मसूढ़ों की जड़ों में लाल रंग के फोड़ा होने से दर्द 

क्रियोजोट 30 , स्टेफिस्गेरिया 30 दिन में 3 बार – जब दांत सड़ने और नष्ट होने के कारण दर्द हो 

मर्क सोल 30 – मसूढ़ों में मवाद और दर्द रात को ज्यादा हो 

कॉफिया 30 – जब गर्म चीज से बढे और ठंढ से घंटें

क्रियोजोट 30 और मर्क सोल 30 – जब दांत में गड्ढा हो गया हो 

हेक्ला लावा 3X या 6X दिन में 3 बार – जब मसूढ़ों में फोड़ा हो , सूजन हो , साथ में जबड़े में सूजन और दर्द, दन्तक्षय (Decay) 

मग्नेशिया फॉस  3X, या 6X – जब गर्म चीज से दर्द घटे 

 

कीड़े लगे दांत में क्रियोजोट Q रुई में मिलाकर दांत के गड्ढा में रखना चाहिए ( क्रियोजोटQ

मसूढ़ों पर नहीं लगना चाहिए नहीं तो घाव या छाला हो सकता है )

दांत निकलवाने से पहले अर्निका 200 या 1M की 1 खुराक लेनी चाहिए 

 

Note -प्रायः किसी भी तरह का दांत दर्द में मर्क सोल 30 और कैमोमिला 30 2-2 घंटा पर लेने से और प्लांटेगो Q लगाने से काफी आराम पहुचता है 

 

घरेलु ईलाज (Home remedy)

  • यदि कोई हल्का दांत दर्द हो रहा है, तो उस दांत के नीचे एक लौंग रखें। इस समय के दौरान, यदि आप पानी पीना चाहते हैं, तो गुनगुने पानी का उपयोग करें। दांत दर्द की स्थिति में कुछ भी ठंडा या खट्टा खाने से बचें। इससे दर्द बढ़ सकता है।

  • लौंग में एंटीबैक्टीरियल, एंटीइंफ्लेमेटरी गुण होते हैं। यह दांत में लगे कीड़े को मारकर काम करता है। इसके साथ ही मसूड़ों की सूजन खत्म होकर दर्द खत्म हो जाता है। आप लौंग को दांत के नीचे रखें और उसका रस चूसते रहें।

  • अगर घर में लौंग का तेल है तो ज्यादा फायदेमंद होगा। इस तेल को थोड़े से रुई पर लगायें और उस दांत पर रखें जिसमें दर्द है। आपको बहुत राहत मिलेगी।

  • लहसुन आपको दांत दर्द से भी छुटकारा दिला सकता है। इसके लिए लहसुन की दो कलियों को छील लें। उन्हें दांत के ऊपर रखें जहां दर्द है और इसे हल्के से चबाएं। इसका रस आपके दांत दर्द से राहत दिलाने का काम करेगा।

  • प्याज एक ऐसी सब्जी है, जो हर घ में उपलब्ध रहता है। यदि आपके दांतों में अचानक दर्द शुरू होता है, तो आप प्याज का एक टुकड़ा काट लें और इसे अपने दांत पर रखें।

  • अगर आपको मुंह में कच्चा प्याज रखने में कठिनाई हो रही है, तो इसे पीसकर इसके रस में रुई भिगोकर फोहा तैयार करें और इसे दांत पर रखें। आपको दर्द से राहत मिलेगी।

  • एक कप पानी में 2 से 3 चुटकी हींग मिलाएं और उतनी ही मात्रा में सेंधा नमक डालकर पानी को उबालें। जब यह पानी बहुत गुनगुना रह जाए तो इस पानी से कुल्ला करें।

  • कुल्ला करते समय इस पानी को कुछ देर अपने मुंह में रखें और इसे पकड़ें। ताकि इन दोनों दवाओं का असर दांतों और मसूड़ों पर पड़ सके। पानी की गर्मी सूजन को दूर करने में मदद करेगी और हींग और सेंधा नमक दर्द को कम करने के लिए काम करेगा।

About the Author

monsterid

Admin

डा राजकुमार (BHMS) होमियोपैथी के क्षेत्र में एक प्रशिक्षित और काफी अनुभवी डॉक्टर हैं , अपने क्लिनिक के माध्यम से कई वर्षों (लगभग 20 वर्ष) से हर तरह की नये और पुराने तथा जटिल रोंगों के सफल ईलाज करते आ रहे हैं ,यह वेबसाइट किसी भी व्यक्ति के लिए काफी उपयोगी है , कोई भी आदमी इस वेबसाइट से फायदा उठा सकते हैं | अगर कोई भी सवाल या कुछ पूछना चाहते हैं तो बिना कोई संकोच के सम्पर्क कर सकते हैं , email - [email protected]

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!